यूपी पुलिस द्वारा एनकाउंटर मामले में योगी सरकार ने अपना पक्ष रखा

0
247

लखनऊ,03 जुलाई। सुप्रीम कोर्ट द्वारा यूपी सरकार से पुलिस एनकाउंटर को लेकर मांगे गए जवाब पर भाजपा अपनी सफाई देने में जुट गई है। यूपी में फर्जी एनकाउंटर मामले में श्रीकांत शर्मा ने योगी सरकार का पक्ष रखा है। आपको बता दें कि फर्जी एनकाउंटर मामले की सुनवाई के लिए दाखिल याचिका के बाद यूपी पुलिस का ऑपरेशन क्लीन एक बार फिर चर्चा में आ गया।

दरअसल योगी सरकार के 16 महीने में 28 जून 2018 तक कुल 2244 पुलिस एनकाउंटर हो चुके हैं, जिनमें 59 अपराधी ढेर हुए, जबकि 4 पुलिसकर्मी भी शहीद हुए हैं। वहीं राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग भी यूपी के दो पुलिस एनकाउंटर पर सवाल उठा चुका है। इनमें ग्रेटर नोएडा का सुमित गुर्जर एनकाउंटर व नोएडा में दरोगा द्वारा फर्जी एनकाउंटर काफी चर्चा में रहा है। यूपी पुलिस द्वारा एनकाउंटर मामले में योगी सरकार ने अपना पक्ष रखा है।

यूपी के उर्जा मंत्री व योगी सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने इस मसले पर कहा है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा एनकाउंटर को लेकर मांगे गए जवाब को जल्द दाखिल कर दिया जाएगा। यूपी में अपराध को लेकर हमारी सरकार ने जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई है और इस पर काम कर रही है। पुलिस पर गोली चलाने वालों को उन्हीं की भाषा में जवाब दिया जाएगा। गोली चलाने वाले अपराधियों को बुके (गुलदस्ता) नहीं, बल्कि उन्हें गोली से जवाब दिया जाएगा।

बता दें कि जून 2018 तक यूपी की योगी सरकार के 16 महीने के कार्यकाल में अब तक पुलिस और अपराधियों के बीच 2,244 एनकाउंटर हुए हैं। यूपी पुलिस द्वारा जारी की गई लिस्ट के अनुसार इन एनकाउंटर में 5387 अभियुक्त गिरफ्तार किए गए, वहीं 59 अपराधी मार गिराए गए। इस दौरान 4 पुलिसकर्मी शहीद भी हुए, वहीं करीब 400 पुलिसकर्मी घायल भी हुए। यही नहीं सबसे ज्दाया मेरठ में 720, आगरा में 601 और बरेली में 343 के साथ सबसे ज्यादा एन्काउंटर पश्चिम यूपी में देखने को मिले हैं। मतलब 2244 एनकाउंटर में से 1664 एनकाउंटर पश्चिम यूपी के ही खाते में हैं।

पढ़े इससे सम्बंधित खबर:

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से मुठभेड़ों पर दो सप्ताह में मांगा जवाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here