ब्रिटिश प्रधानमंत्री द्वारा 104 भारतीय महिला स्टेम विद्वान सम्मानित

0
432
  • 43 ब्रिटिश विश्वविद्यालयों में स्टेम शिक्षा में मास्टर डिग्री प्राप्त करने में लगे हैं ‘ब्रिटिश काउंसिल की 70वीं वर्षगांठ छात्रवृत्ति‘ के 104 विजेता
  • ब्रिटिश काउंसिल द्वारा यू.के में स्टेम शिक्षा में लगे अन्य 70 भारतीय महिलाओं के लिए 1 मिलियन ब्रिटिश पौंड स्टर्लिंग की छात्रवृत्ति के दूसरे दौर की घोषणा

नई दिल्ली, 04 नवंबर 2018: सांस्कृतिक संबंधो और शैक्षिक अवसरों के लिए यूनाइटेड किंगडम के अंतर्राष्ट्रीय संगठन ब्रिटिश काउंसिल ने यूके में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (स्टेम) में मास्टर कर रही भारतीय महिलाओं के लिए अपनी 70वीं वर्षगांठ छात्रवृत्ति कार्यक्रम के दूसरे संस्करण की घोषणा की है। 104 भारतीय महिला स्टेम विद्वानों के लिए यह घोषणा प्रधानमंत्री माननीय थेरेसा मे एमपी ने एक बधाई समारोह समारोह में की। ये विद्वान वर्तमान में इंग्लैंड, स्कॉटलैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड के 43 ब्रिटिश विश्व विद्यालयों में स्टेम शिक्षा मे अपनी मास्टर डिग्री पूर्ण कर रहे हैं।

माननीय थेरेसा मे एमपी ने ब्रिटिश काउंसिल की 70वीं वर्षगांठ के महिला स्टेम विद्वानों से मुलाकात की। जो उत्कृष्ठ भारतीय छात्रों को यूके के शीर्ष विश्वविद्यालयों में आने के लिए यूके की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। विजेताओं ने यूनाइटेड किंगडम के सांसदों से मुलाकात की और संभावित कार्यस्थलों व इंटर्नशिप के विषय में जानने के लिए प्रमुख व्यवसायों और विश्वविद्यालयों से भी रूबरू हुए।

Prime Minister Theresa May welcomed Science Technology Engineering and Maths students to Downing Street and had a group photograph on the street.

बता दें कि छात्रवृत्ति योजना संस्करण के दूसरे संस्करण की घोषणा पहले राउंड की सफलता के बाद हुई है, जिसने भारत में ब्रिटिश काउंसिल की 70वीं वर्षगांठ मनाई गयी। 104 विद्वानों में से 50 फीसदी से अधिक टियर 2 और 3 भारतीय शहरों से आते हैं, जो देश भर में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, कौशल और योग्यता तक पहुंच मे सुधार तथा भारत और वैश्विक स्तर पर भारतीय महिलाओं के सफल होने के अवसर प्रदान करने के लिए ब्रिटिश काउंसिल की प्रतिबद्धता को रेखांकित करते हैं।

दूसरे वर्ष में, ब्रिटिश काउंसिल और यूके में स्थित दुनिया के कुछ बेहतरीन विश्वविद्यालय 70 भारतीय महिलाओं को शैक्षणिक वर्ष 2019-20 के लिए यूके में स्टेम में मास्टर कार्यक्रम का अध्ययन करने के लिए 1 मिलियन ब्रिटिश स्टर्लिंग पौंड कीमत की पूर्ण शिक्षण छात्रवृत्ति को वित्तपोषित करेंगे। महिला विद्वानों के लिए ब्रिटिश काउंसिल का यह निवेश भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास के उपाय और संकल्प तथा स्वयं ब्रिटिश काउंसिल के महिलाओं और लड़कियों पर विशेष ध्यान तथा संयुक्त राष्ट्र सतत विकास लक्ष्य 5 का समर्थन करता है।

श्री एलेन गैमल, ओबीई, निदेशक, ब्रिटिश काउंसिल भारत ने कहा, ‘‘हमारे विद्वानों के लिए प्रधानमंत्री से उनके घर 10 डाउनिंग स्ट्रीट में मुलाकात करना एक अविस्मरणीय दिन है। विद्वानों की मुलाकात ब्रिटेन और भारत के बीच शैक्षणिक संबंधों के विशेष महत्व का एक अनुस्मारक है, जिसके चलते ब्रिटेन ने पिछले साल भारत से 18,000 छात्रों का स्वागत किया था। 2018 की ब्रिटिश काउंसिल 70वीं वर्षगांठ की 104 विद्वान महिला ब्रिटेन और भारत के बीच भविष्य के संबंधों के राजदूत हैं, एक ऐसा संबंध जो रचनात्मकता, नवरचना और जीवन-परिवर्तन के अवसरों पर केंद्रित है। मुझे खुशी है कि हम 2019 में 70 और महिलाओं के लिए ब्रिटिश काउंसिल की 70वीं वर्षगांठ पर छात्रवृत्तियां देने के लिए 1 मिलियन पौंड के निवेश की घोषणा कर रहे हैं।‘‘

बंगोर विश्वविद्यालय यूके से नैदानिक और स्वास्थ्य मनोविज्ञान में परास्नातक कर रही लखनऊ की ब्रिटिश काउंसिल छात्रवृत्ति विजेता साराह जबीन ने कहा, ‘‘पिछला साल मेरे जीवन के सबसे पूर्ण वर्षों में से एक रहा है। ब्रिटिश् काउंसिल स्टेम छात्रवृत्ति के बारे में पता लगाना तथा इस छात्रवृत्ति के परिणाम स्वरूप दुनिया भर के कुछ सबसे प्रभावशाली लोगों से मिलना और यूके में एक विश्वस्तरीय मास्टर डिग्री करना, यह सब बहुत अच्छा रहा है। मेरा उद्देश्य इस अवसर का अधिक से अधिक लाभ उठाना है और यह जानने के लिए बहुत उत्साहित हूं कि इस अवसर को अधिक भारतीय शोधकर्ताओं तक बढ़ा दिया गया है।’’

ब्रिटिश काउंसिल 70वीं वर्षगांठ छात्रवृत्तियों हेतु आवेदन प्रक्रिया – आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों के लिए 30 जनवरी 2019 तक यूनाइटेड किंगडम विश्वविद्यालय से एक प्रस्ताव प्राप्त होना आवश्यक है। सभी विवरण ब्रिटिश काउंसिल वेब साइट पर उपलब्ध रहेंगे। ब्रिटिश काउंसिल वैबसाइटः https://www.britishcouncil.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here