वैज्ञानिकों को मिले आकाशगंगा के एक गृह पर जीवन के संकेत

0
335

वैज्ञानिकों को मिलें दूसरे गृह पर जीवन की तरंगें

केलिफोर्निया, 12 सितम्बर 2018: जीवन केवल पृथ्वी पर है ऐसी अवधारणा को ताजा वैज्ञानिक खोजो ने नकार दिया है। वैज्ञानिकों का दावा है कि तरंगे जिस भी स्थान से आ रही हैं वहां जीवन संभव हो सकता है। ‘ब्रेकथ्रू लिसन’ मिशन के वैज्ञानिकों ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए दूसरी दुनिया से तरंगों को प्राप्त किया है।

ब्रेकथ्रू लिसन के मुताबिक सोमवार की शाम को वैज्ञानिकों ने 72 नए फास्ट रेडियो विस्फोट (एफआरबी) का पता लगाया। वैज्ञानिकों ने बताया कि यह तरंगें हमारी आकाशगंगा मिल्की वे से करीब तीन अरब प्रकाश वर्ष दूर स्थित एफआरबी- 121102 आकाशगंगा से प्राप्त हुईं।

इस आकाशगंगा की पहचान पिछले साल भारतवंशी डॉक्टर विशाल गज्जर ने की थी। डॉक्टर विशाल यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफॉर्निया, बर्कले में शोध कर रहे हैं। ‘ब्रेकथ्रू लिसन’ की ओर से बताया गया कि एक विस्फोट (तरंगों के रिलीज) के दौरान ज्यादातर एफआरबी की पहचान की गई। इसके विपरीत एफआरबी-121102 ही अकेली ऐसी गैलक्सी है जहां से लगातार तरंगें निकल रही हैं।

2017 में ब्रेकथ्रू लिसन की निगरानी के दौरान वेस्ट वर्जिनिया में ग्रीन बैंक टेलिस्कोप की मदद से कुल 21 बर्स्ट की पहचान हुई थी। वैज्ञानिकों का कहना है कि नए एफआरबी का पता चलने से यह समझने में मदद मिलेगी कि ये रहस्यमय स्रोत कितने शक्तिशाली हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here