‘आप’ सरकार ने हुक्का बार पर लगाई रोक

0
646

हुक्का बार संचालक इनमें जड़ी-बूटी होने का दावा करते हैं। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन का हवाला देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि एक घंटा हुक्का पीना 30 सिगरेट पीने के बराबर नुकसानदायक है

नई दिल्ली 01 नवंबर। दिल्ली सरकार ने रेस्तरां और होटलों में चलने वाले हुक्का बार पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली पुलिस और नगर निगमों को ऐसे होटल और रेस्तरां के लाइसेंस निरस्त करने को कहा जो अपने यहां हुक्का बार चलाते हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि भारत सरकार की ओर से मई 2017 में जारी अधिसूचना के मुताबिक हुक्का बार को धूम्रपान निषेध क्षेत्र और धूम्रपान क्षेत्र दोनों में ही प्रतिबंधित किया है। राज्य तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ ने अलग-अलग रेस्टोरेंट और होटलों में छापे मारकर हुक्का बार से नमूने जुटाए हैं। इन नमूनों में निकोटीन की काफी ज्यादा मात्र पाई गई है।

जबकि, हुक्का बार संचालक इनमें जड़ी-बूटी होने का दावा करते हैं। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन का हवाला देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि एक घंटा हुक्का पीना 30 सिगरेट पीने के बराबर नुकसानदायक है। इसके नुकसान को दरकिनार करते हुए तमाम होटल व रेस्टोरेंट में हुक्का बार का चलन बढ़ा है। खासतौर पर युवा पीढ़ी इसकी चपेट में आ रही है। युवाओं में हुक्का बार को एक तरह के स्टेटस सिंबल की तरह लिया जा रहा है। जबकि, इससे उनके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है।स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि हुक्का बार पर पाबंदी लगाने के लिए दिल्ली पुलिस और नगर निगम को लगातार पत्र लिखा जा रहा है। लेकिन, उनकी तरफ से कार्रवाई की शुरुआत नहीं की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here