बाढ़ से जिनके मकान गिरे, उन्हें आवास उपलब्ध कराया जाएगा: CM

0
575
  • मुख्यमंत्री द्वारा जनपद बाराबंकी के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण
  • बाढ़ राहत कार्यों में धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी
  • मुख्यमंत्री ने बाराबंकी जनपद में 92 बाढ़ प्रभावित परिवारों को खाद्यान्न व राहत सामग्री तथा 10 प्रभावितों को गृह अनुदान राशि का वितरण किया

लखनऊ: 14 अगस्त, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाढ़ से प्रभावित, जिनके कच्चे मकान हैं या जिनके मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं, उन्हें आवास उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने कहा कि जिनके पास खाद्यान्न नहीं है, उन्हें खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाए। पशुओं के लिए पर्याप्त चारे की व्यवस्था हो। इस वर्ष 10 लाख आवास गरीबों को उपलब्ध कराए जाएंगे। बाढ़ राहत कार्यों में धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने बाराबंकी जनपद में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान निर्देश दिए कि बाढ़ शिविरों में शुद्ध पेयजल तथा पेट्रोमेक्स आदि की व्यवस्था हो, जिससे किसी भी प्रकार की अव्यवस्था या परेशानी का सामना न करना पड़े। स्वास्थ्य केंद्रों में दवाइयों के साथ-साथ सर्प-दंश सम्बन्धी इंजेक्शन की व्यवस्था होनी चाहिए। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत एवं बचाव कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही या शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस सम्बन्ध में निर्देश दिए जा चुके है। बाढ़ की आपदा के स्थायी हल के लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं। इस अवसर पर उन्होंने 92 बाढ़ प्रभावित परिवारों को खाद्यान्न व राहत सामग्री तथा 10 प्रभावितों को गृह अनुदान राशि का वितरण किया।

योगी जी ने जनपदवासियों को जन्माष्टमी एवं स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए कहा कि देश 71वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। शहीदों के त्याग एवं बलिदान की वजह से हमें आजादी मिली है। यह आवश्यक है कि शहीदों का सपना पूरा हो।
इस अवसर पर सिंचाई मंत्री श्री धर्मपाल सिंह, वन एवं पर्यावरण मंत्री श्री दारा सिंह चैहान, अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।