यादगार रहा यूरेका इण्टरनेशन समारोह, बच्चों ने बांधा ऐतिहासिक संमा

0
692

सुपर ओवरऑल चैम्पियनशिप स्प्रिंगडेल सीनियर स्कूल, अमृतसर, पंजाब को

लखनऊ, 19 दिसम्बर 2018: अन्तर्राष्ट्रीय शैक्षिक-साँस्कृतिक महोत्सव ‘यूरेका इण्टरनेशन-2018’ का भव्य समापन बुधवार शाम सीएमएस कानपुर रोड ऑडिटोरियम में हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में श्री संजीव कुमार शुक्ला, कमान्डेन्ट, सीटीआई, होमगार्ड्स, लखनऊ, ने दीप प्रज्वलित कर पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह का उद्घाटन किया एवं रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच देश-विदेश के प्रतिभागी विजयी छात्रों को शील्ड, मैडल व सार्टिफिकेट प्रदान कर सम्मानित किया।

स्प्रिंगडेल सीनियर स्कूल, अमृतसर, पंजाब ने यूरेका इण्टरनेशन-2018 की सुपर ओवरऑल चैम्पियनशिप ट्राफी जीता। इसके अलावा, प्राइमरी वर्ग की ओवरऑल चैम्पियनशिप सागर पब्लिक स्कूल, मध्य प्रदेश के नाम रही जबकि जूनियर वर्ग की ओवरऑल चैम्पियनशिप पर सेंट स्टीफन स्कूल, चंडीगढ़ ने कब्जा जमाया। सीनियर वर्ग की चैम्पियनशिप बाल भारती पब्लिक स्कूल, नई दिल्ली ने अपने नाम की।

सीएमएस संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने विश्व एकता और विश्व शांति के पथ पर चलने के लिए सभी छात्रों को प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि ये विश्व ईश्वर ने सभी धर्मों और जातियों के लिए बनाया है। हमें आपसी झगड़ों को समाप्त कर विश्व शांति की राह पकड़नी चाहिए।

‘एनुअल मदर्स डे एवं ग्रैण्डपैरेन्ट्स डे’ समारोह का आयोजन

प्री-प्राइमरी के नन्हें-मुन्हें छात्रों ने मनमोहक प्रस्तुति

लखनऊ, 20 दिसम्बर 2018: सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (प्रथम कैम्पस) के प्री-प्राइमरी एवं प्राइमरी सेक्शन के नन्हें-मुन्हें छात्रों ने ‘एनुअल मदर्स डे एवं ग्रैण्ड पैरेन्ट्स डे’ समारोह के मौके पर भावपूर्ण प्रस्तुतियों से अभिभावकों को प्रभावित कर दिया। मौका था मौका था विद्यालय द्वारा आयोजित ‘एनुअल मदर्स डे एवं ग्रैण्ड पैरेन्ट्स डे’ समारोह का, जो आज सीएमएस गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) ऑडिटोरियम में सम्पन्न हुआ।

इससे पहले, मुख्य अतिथि श्रीमती पूजा राज, आईआरएस, एडीशनल कमिश्नर, इन्कम टैक्स, ने दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का उदघाटन किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्रीमती पूजा राज ने कहा कि हम बड़ों का यही प्रयास होना चाहिए कि बच्चों को घर-परिवार, विद्यालय एवं समाज में सभी जगह अच्छे विचार मिल सके।

इस अवसर पर संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि दादा-दादी और नाना-नानी बच्चों को केवल लाड़-प्यार ही नहीं करते बल्कि उनके नैतिक और मानसिक विकास को भी बढ़ावा देते हैं।

पढ़ें इससे सम्बंधित खबर:

सीएमएस के अन्तर्राष्ट्रीय शैक्षिक एवं साँस्कृतिक महोत्सव में दिखा कला और बौद्धिक प्रतिभा का संगम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here