क्या आप अपने देश की सौंधी मिटटी से बने कुल्हड़ में चाय पीना चाहते हैं

0
377

प्लास्टिक डिस्पोजल के बजाय इसमें चाय पीने से होते हैं कई फायदे, बीमारियों से भी रखता है दूर

आपने अक्सर देखा होगा कि गावों और छोटे शहरों में या फिर रेलवे स्टेशन पर आज भी लोग कुल्हड़ में चाय पीना पंसद करते हैं। कुल्हड़ में पीने से न सिर्फ चाय का स्वाद बढ़ जाता है कई लोगों की दिन की शुरुआत चाय के बिना नहीं होती है। आपतो जानते हैं कि सुबह.सुबह चाय पीने का अपना ही एक मजा है। ज्यादातर लोग ग्लास या फिर कप में चाय पीना पंसद करते हैं। लेकिन पहले लोग इसे मिट्टी के कप यानी कुल्हड़ में पीना पसंद करते थे। क्योंकि यह न सिर्फ आपके चाय की स्वाद को बढ़ा देता है। बल्कि मिट्टी की सौंधी खुशबू भी तरोताजा कर देती है।

वहीं कोविड.19 के दौर में ज्यादातर लोग चाय पीने के लिए डिस्पोजल कप का इस्तेमाल कर रहे हैं। जो कि सही नहीं है। इससे वायरस के संपर्क में भी आने का खतरा रहता है। ऐसे में अगर आप चाहे तो डिस्पोजल स्टील या कांच के ग्लास में चाय पीने के बजाय कुल्हड़ में चाय पी सकते हैं। कई ग्रामीण इलाकों और छोटे शहरों में आज भी चीय पीने के लिए कुल्हड़ का उपयोग किया जाता है।

बता दें कि मिट्टी की सौंधी खुशबु से आपका मन बार.बार चाय पीने का करेगा। भारत में ऐसी कई जगह हैं जहाँ आज भी कई लोग कुल्हड़ में चाय पीना बहुत पसंद करते हैं। कुछ लोग चाय कुल्हड़ में इसलिए पीना पसंद करते हैं क्योंकि यह सेहत के लिए काफी फायदेमंद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here