चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन: कमलनाथ से छीना स्टार प्रचारक का दर्जा

0
280
file photo

विजयवर्गीय को भी मिली फटकार, अब प्रचार का खर्च पार्टी नहीं, प्रत्याशी के खाते में जुड़ेगा, आइटम वाले बयान पर चुनाव के लपेटे में आये कमलनाथ 

चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन: चुनाव आयोग ने मप्र कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बड़ी कार्रवाई की है। आयोग ने कमलनाथ के बयानों पर संज्ञान लेते हुए इन्हें आपत्तिजनक माना है। शुक्रवार को आयोग ने कमलनाथ से स्टार प्रचारक का दर्जा भी छीन लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने कहा है कि हम आयोग के इस आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। वहीं आयोग ने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के चुन्नू-मुन्नू वाले बयान पर सख्त आपत्ति ली है। आयोग ने उनके भेजे गए जवाब के परीक्षण के बाद माना है कि राजनीतिक दल और प्रत्याशियों के लिए लागू आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन किया गया है और इस तरह के शब्दों का वह आगे सार्वजनिक तौर पर उपयोग नहीं करें।

गौरतलब है कि कमलनाथ के जवाब से चुनाव आयोग संतुष्ट नहीं था। इसी के बाद उन पर यह कार्रवाई की गई। नोटिस के जवाब में कमलनाथ ने कहा था कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया। चुनाव आयोग ने कमलनाथ से स्टार प्रचारक का दर्जा छीन लिया है। यानी अब वे उपचुनाव में स्टार प्रचारक की हैसियत से प्रचार नहीं कर पाएंगे। अगर बतौर स्टार प्रचारक कहीं पहुंचे तो दौरे के पूरे इंतजामों का खर्च पार्टी फंड से नहीं मिलेगा, बल्कि उस इलाके का उम्मीदवार वह खर्च उठाएगा।

आइटम जैसे शब्दों का इस्तेमाल न करें

चुनाव आयोग को भाजपा और राष्ट्रीय महिला आयोग की तरफ से शिकायत मिली थी कि मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने महिला उम्मीदवार इमरती देवी को ‘आइटमÓ कहा था। इस पर आयोग ने कहा कि किसी महिला के लिए आइटम जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर कमलनाथ ने चुनाव आयोग की एडवायजरी का उल्लंघन किया है। इसलिए आयोग कमलनाथ को यह हिदायत देता है कि वे आदर्श आचार संहिता लागू रहने के दौरान इस तरह के शब्दों या बयानों का इस्तेमाल न करें।

चुनावी मैदान में जमकर चल रहे व्यंग्य बाण: 

शिवराज ने कहा-दाग बड़े गहरे हैं, बेनकाब चेहरे हैं

कमलनाथ बोले- जो दागदार हैं, वो हमेशा रहेंगे

शिवराज नौटंकी के कलाकार: आयोग ने कमलनाथ के दो बयानों ‘शिवराज नौटंकी के कलाकार, मुंबई जाकर एक्टिंग करें और ‘आपके भगवान तो वो माफिया हैं, जिससे आपने प्रदेश की पहचान बनाई, आपके भगवान तो मिलावटखोर हैं पर भी गौर किया। आयोग ने कहा कि एक नेता होने के बावजूद कमलनाथ बार-बार आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं, नैतिक और मर्यादित आचरण नहीं कर रहे और आयोग की एडवायजरी को नजरअंदाज कर रहे हैं।

उपचुनाव के लिए चुनाव प्रचार अंतिम चरण में है। इस दौरान भाजपा और कांग्रेस नेता एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कमलनाथ पर हमला बोलते हुए उन्हें दागी बताया। शिवराज ने कहा, कमलनाथ जी कहते हैं कि वो बिलकुल बेदाग हैं। दाग बड़े गहरे हैं, बेनकाब चेहरे हैं। अगर दुनिया भर के वॉशिंग पाउडर भी ले आएं तो वो दाग धुल नहीं सकते। और इसलिए कम से कम कमलनाथ खुद को बेदाग न कहें।

कमलनाथ ने शिवराज पर पलटवार करते हुए कहा कि हर दागदार को बेदाग बनाने वाली वाशिंग मशीन भाजपा में भी वो दाग धूल नहीं सकते। दुनिया भर में अब तक ऐसी कोई वाशिंग मशीन नहीं बनी है जो इन दागदारों के दाग धो सके। कमलनाथ ने कहा कि जो बेदाग थे वो बेदाग रहेंगे और जो दागदार हैं वो दागदार ही रहेंगे इसकी गवाह खुद जनता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here