सैनिक- पुलिस कर्मियों को बांधी गयीं रुद्राक्ष-कलावे की राखियां, भावुक हुए सुरक्षाकर्मी

0
1186

मनकामेश्वर मठ मंदिर में तैयार प्रसाद को ग्रहण कर भावुक हुए सुरक्षाकर्मी

लखनऊ, 7 अगस्त! मनकामेश्वर मठ मंदिर की ओर से रक्षाबंधन पर देश और समाज की सुरक्षा में तैनात सैनिकों और पुलिस कर्मियों की कलाई पर मठ में बनी खास रुद्राक्ष और कलावे की राखियां सोमवार 7 अगस्त को बांधी गई। इस अवसर पर बाजार में बनी मिठाई के स्थान मठ में तैयार विशेष प्रसाद भी वितरित किया गया। इसके साथ ही समाज को भ्रष्टाचार और अपराध से मुक्त कराते हुए देशहित को सर्वोपरी रखने का संकल्प भी लिया गया।

मनकामेश्वर मठ मंदिर की श्रीमहंत देव्यागिरि की अगुआई में सबसे पहले दल न्यू हैदराबाद स्थित पुलिस लाइन पहुंचा। वहां कई ऐसे पुलिसकर्मी थे जो रक्षाबंधन पर ड्यूटी के कारण अपने परिवार संग रक्षाबंधन पर्व नहीं बना पा रहे थे। जब सोमवार को श्रीमहंत देव्यागिरि वहां पहुंची और उन्होंने भाइयों को आशीर्वाद दिया और उनके मस्तक पर रोली अक्षत का तिलक कर हाथ में राखी बांधी तो उनकी आंखें डब डबा उठी। उन्होंने समाज को भ्रष्टाचार और अपराध से मुक्त कराने के लिए संकल्प लिया। इस खास मौके पर श्रीमहंत देव्यागिरि ने स्वदेशी अपनाओ का संदेश भी दिया। उन्होंने बाजार की राखियों के बजाए कलावे और रुद्राक्ष से खुद राखियां बनवाकर पुलिस कर्मियों को बांधी। बाजार की मिठाइयों के बजाए मनकामेश्वर मठ मंदिर में बनवाया प्रसाद वितरित किया। प्रसाद में साबूदाने की खीर, आलू की पकौड़ी, कुट्टू की पूड़ी, आलू की भुजिया, केला शामिल था। इस अवसर पर उपस्थित आरआई रिजर्व इंस्पैक्टर शिवाकांत सिंह और एएसपी डॉ मिनाक्षी ने इस आयोजन की प्रशंसा करते हुए कहा कि ऐसे आयोजन समाज के साथ सुरक्षाकर्मियों के सम्बंध को और अधिक मजबूत बनाएंगे। रक्षाबंधन के अवसर पर 50 से अधिक पुलिस अधिकारी और कमियों के हाथों पर खास मनकामेश्वर मठ मंदिर की खास राखियां सजी। श्री महंत देव्यागिरि के साथ साथ मनकामेश्वर मठ मंदिर की ओर से ऋतु गुप्ता, तुलसी पाण्डेय, उर्वशी सिंह ने संगोष्ठी भवन में हुए इस आयोजन में उत्साह के साथ राखियां बांधी।

इस क्रम में यह दल बाद में कैंट स्थित स्टेशन हेड क्वाटर गया। वहां सूबेदार, हवलदार, कर्नल रैंक के अधिकारियों संग डीएससी के जवानों ने रक्षाबंधन पर पर श्रीमहंत देव्यागिरि की पहल का स्वागत किया। वहां मेजर जनरल विनोद शर्मा की अगुआई में सैनिकों की कलाइयों पर खास मनकामेश्वर मठ मंदिर में बनी रुद्राक्ष कलावे की राखियां बांटी गई और प्रसाद का वितरण किया गया। वहां श्रीमहंत देव्यागिरि की अगुआई में स्वदेशी अपनाने और देशहित को सर्वोपरी रखने का संकल्प लिया गया। इसके बाद मनकामेश्वर मठ में तैयार प्रसाद वितरित किया गया।