रोहित सरदाना माफी मांगे वरना… : मजलिसे ओलमाए हिंद

1
657

रोहित सरदाना के ट्वीट की निंदा

लखनऊ 19 नवंबर : मजलिसए ओलमाए हिंद के सभी प्रांतीय सदस्य ने रोहित सरदाना के उस ट्वीट की निंदा की है जिसमें उन्होंने पेगम्बर मौहम्मद साहब स.अ. की पुत्री और उनकी पत्नी की शान में अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया है।
मजलिसए ओलमाए हिंद के महासचिव मौलाना सैयद कलबे जवाद नकवी ने कहा कि शियों ने कभी कोई ऐसी फिल्म या डॉक्युमेंटरी नहीं बनायी जो किसी धर्म के पवित्र हस्तियों का अपमान करे। हम हमेशा ऐसे तत्वों के खिलाफ रहे हैं जो धार्मिक हस्तियों के चरित्र को आहत करने की कोशिश करते हैं, चाहे वह किसी भी धर्म या इस समुद्वाय से संबंघ रखते हों,ऐसी तमाम चीजें जो सामने आती है जिनमें घार्मिक हस्तियों का अपमान किया गया हों उसका इस्लाम से कोई संबंघ नही है।
मौलाना ने कहा कि जिस पृष्ठभूमि में रोहित सरदाना ने ट्वीट किया है उस मामले का इस्लाम या हमारी मिल्लत से कोई संबंध नहीं है इसलिए ऐसे बयान देकर देश का माहौल खराब करने की कोशिश की जाती है।मजलिसए ओलमाए हिंद के सभी सदस्यों ने भारत सरकार और प्रशासन से मांग की है कि ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए जो व्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर धार्मिक पवित्र हस्तियों का अपमान करते हैं।रोहित सरदाना का बयान निंदनीय है और उन्हें अपने इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए। ओलमा ने कहा कि अगर वह माफी ना माॅगें तो उन्के खिलाफ कडी कारवाई होनी चाहिए।
मौलाना हुसेना मेहदी हुसेनी अध्यक्ष, मौलाना मोहसिन तकवी,मौलाना नईम अब्बास (उपाध्यक्ष) मौलाना जालल हैदर नकवी, मौलाना आबिद अब्बास (दिल्ली सचिव) मौलाना अली हैदर गाजी (दिल्ली अध्यक्ष) मौलाना अमानत हुसैन बिहार, मौलाना सफदर हुसैन जोनपुरी, मौलाना करामत हुसैन मुमबई,मौलाना ताकी आगा हैदराबाद, मौलाना मोहम्मद हुसैन लुत्फी कारगिल, मौलमान मोहम्मद रजा गरवी गुजरात,और अन्य ओलमा ने इस ट्वीट की निंदा की है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here