स्कूलों ने क्रिसमस थोपा तो नतीजे गंभीर, हिंदू संगठन की चेतावनी

0
509

अलीगढ़, 20 दिसम्बर। हिंदू जागरण मंच ने अलीगढ़ के स्कूलों को चेतावनी जारी कर कहा है कि अगर उन्होंने क्रिसमस मनाने पर जोर दिया तो उन्हें इसके गंभीर नतीजे भुगतने पड़ेंगे। अलीगढ़ के सभी स्कूलों को क्रिसमस नहीं थोपने की धमकी दिए जाने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी जिला पुलिस प्रमुखों को ऐसे लोगों से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए हैं। अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) आनंद कुमार ने कहा कि अलीगढ़ समेत सभी जिला पुलिस प्रमुखों को निर्देश दिए गए हैं कि ऐसी धमकी देने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।

उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि लोग हर त्योहार मनाने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र हैं। वहीं, मंच ने क्रिश्चियन स्कूलों पर पर्व के जरिए ईसाई धर्म को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। गौरलतब है कि हिंदू जागरण मंच ने अलीगढ़ के हिंदू बहुल स्कूलों को चेतावनी जारी कर क्रिसमस मनाने को अनिवार्य किए जाने पर गंभीर नतीजे भुगतने की चेतावनी दी है। मंच का कहना है कि बच्चों को इसके लिए कतई विवश नहीं किया जाना चाहिए। मंच के महानगर अध्यक्ष सोनू सविता ने स्कूलों को भेजे गए पत्र में कहा है कि स्कूलों में बच्चों पर ईसाई धर्म के पर्व न थोपे जाएं और बच्चों को क्रिसमस मनाने के लिए कतई विवश न करें। उनकी सलाह पर अमल नहीं हुआ और क्रिसमस मनाने के लिए बच्चों को बाध्य किया तो मंच इसका जोरदार विरोध करेगा।

सोनू सविता का कहना है कि क्रिसमस पश्चिमी सभ्यता को बढ़ावा देने वाला पर्व है। वहीं, पब्लिक स्कूल डिवेलपमेंट सोसाइटी और पैरंट्स असोसिएशन ने मंच के इस फरमान का विरोध करते हुए इसे चिंता का विषय बताया है। पैरंट्स असोसिएशन के अध्यक्ष सौरभ का कहना है कि यदि अभिभावकों को इससे कोई एतराज नहीं है, तो कोई बात नहीं है। अगर पैरंट्स इसका विरोध करते हैं तो उनका संगठन उनके साथ खड़ा होगा। उधर चर्च के युसुफ दास का कहना है कि सभी स्कूलों में दिवाली, होली, ईद और क्रिसमस डे जैसे त्यौहार हर साल मनाए जाते हैं। इससे बच्चों का बौद्धिक विकास होता है। अलीगढ़ के एसएसपी आरके पांडे ने कहा, हम जांच कर रहे हैं कि धमकी देने वालों पर कौन से मामले दर्ज किए जा सकते हैं। लोग सभी त्योहार मनाने को स्वतंत्र हैं। स्कूल-कॉलेजों को सुरक्षा दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here