राहुल गांधी को टीम चुनने का अधिकार मिलना चाहिए: गहलोत

0
708

नई दिल्ली, 27 फरवरी। कांग्रेस कार्यकारी समिति के चयन के लिए पार्टी के पूर्ण अधिवेशन से पहले वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कहा पार्टी के नए अध्यक्ष को अपनी टीम चुनने का पूरा अधिकार दिया जाना चाहिए, जैसा कि पहले होता रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव कराना किसी तरह उचित नहीं कहा जा सकता। कांग्रेस के 135 साल पुराने इतिहास में, अतीत में पांच मौकों पर कार्यकारी समिति के चयन के लिए चुनाव कराए गए हैं। कांग्रेस का पूर्ण अधिवेशन 16 से 18 मार्च तक नई दिल्ली में होगा।

ज्ञात हो कि कांग्रेस कार्यकारी समिति ही पार्टी के सभी बड़े फैसले करती है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में पूर्ववर्ती कार्यकारी समिति को भंग कर दिया था और इसके स्थान पर कामकाज के लिए 34 सदस्यीय स्टीयरिंग कमिटी का गठन किया था। गहलोत ने बताया कांग्रेस अध्यक्ष को कार्यकारी समिति का चयन करने का अधिकार दिया जाना चाहिए।

राहुल गांधी को नई कार्यकारी समिति का चुनाव स्वयं करना चाहिए

कुछ मौकों को छोड़ कर यह पार्टी का 135 साल पुराना इतिहास है। मुझे लगता है कि राहुल गांधी को नई कार्यकारी समिति का चुनाव स्वयं करना चाहिए। उन्होंने बताया कांग्रेस कार्यकारी समिति के चयन के लिए जब चुनाव हुए थे, तब सदस्यों ने चुनाव के इस्तीफा दे दिया था, ताकि पार्टी अध्यक्ष को नई टीम के चयन के लिए पूरा अधिकार दिया जा सके। उन्होंने पूछा ऐसे चुनाव कराने का क्या फायदा है। कांग्रेस की परंपरा जारी रहनी चाहिए। कांग्रेस के 135 साल पुराने इतिहास में, अतीत में पांच मौकों पर कार्यकारी समिति के चयन के लिए चुनाव कराए गए हैं। कांग्रेस का पूर्ण अधिवेशन 16 से 18 मार्च तक नई दिल्ली में होगा।