इस महल में भटकती है आत्मा

0
119

ड्यूटी पर गार्ड सोए तो पड़ता है चांटा

आपने भारतीय सीमा पर ड्यूटी देने वाले कैप्टन हरभजन सिंह की आत्मा के किस्से सुने ही होंगे, आज हम आपको एक अंग्रेज की भटकती आत्मा का किस्सा सुनाने जा रहे हैं। आप भूतों या आत्माओं के अस्तित्व के होने पर भरोसा करें या ना करें, लेकिन सदियों से कुछ ऐसे किस्से और दावे सुनने को मिलते रहे हैं जो हैरत में डालते हैं।

राजस्थान में ऐसे कई प्राचीन किले और महल हैं, जिनके बारे में कहा जाता है कि यहां आत्माएं भटकती हैं। ऐसी ही एक कहानी है राजस्थान के कोटा में स्थित ब्रज राज भवन पैलेस की। यह प्राचीन इमारत है और अपने विचित्र इतिहास के लिए जानी जाती है। करीब 180 साल पुरानी इस इमारत को 1980 में ऐतिहासिक होटल घोषित किया जा चुका है। वहीं कई पर्यटकों ने यहां भूतहा अनुभव होने का दावा किया है।

इस महल में लोग नौकरी करने से भी डरते हैं। उसके पीछे वजह है वहीं भूत। माना जाता है कि कोई गार्ड अगर ड्यूटी पर सो जाता है तो यहां रहने वाली आत्मा उसे थप्पड़ मार देती है। इतिहास के जानकारों के मुताबिक यहां मेजर बर्टन नाम के व्यक्ति की आत्मा भटकती है। मेजर बर्टन ब्रिटेन से भारत आया था। जब 1857 की क्रांति का आगाज हुआ तो वाह कोटा में नौकरी करता था।

क्रांतिकारियों में असंतोष उभर रहा था। उन्होंने ब्रिटिश शासन को उखाड़ फेकने के लिए शस्त्र उठा लिए। इसी दौरान उनका सामना मेजर बर्टन से हुआ। बर्टन जालिम ब्रिटिश हुकूमत का प्रतिनिधि था, क्रांतिकारियों ने उसे मौत के घाट उतार दिया। बर्टन की मौत के बाद क्रांतिकारियों का सामना उनके बेटो से भी हुआ। वेभी ब्रिटिश शासन के हितों की रखा करना चाहते थे, लेकिन क्रांतिकारियों के साथ मुठभेड़ में वे भी मारे गए।

कहा जाता है कि उस घटना के बाद से ही मे बर्टन की आत्मा अशांत है और तब से ही उनकी रूह भटक रही है। हालांकि लोगों का यह भी मानना है कि बर्टन की आत्मा ने कभी किसी को नुकसान नहीं पहुचाया। उसे देखे जाने का कई बार दावा किया गया है। खासतौर से उस हाॅल में जहां उसकी मौत हुई थी। यह भी कहा गया है कि रात को जब कोई कार्ड ड्यूटी के दौरान सो जाता है तो बर्टन का भूत उसे थप्पड़ मार कर जगा देता है। इसी तरह उसे सिगरेट पीने वाले लोग भी पसंद नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here